NEFT और IMPS के बीच का अंतर | NEFT vs IMPS

इस पोस्ट में हम NEFT और IMPS के बीच अंतर के बारे में बात करने जा रहे हैं। ये ट्रांसफर पेमेंट के तरीके हैं। NEFT का इस्तेमाल इंटर बैंक फंड ट्रांसफर के लिए किया जाता है जबकि IMPS का इस्तेमाल इंटर बैंक और इंट्रा बैंक फंड ट्रांसफर दोनों के लिए किया जा सकता है। इस लेख में हम NEFT और IMPS के बीच के अंतर पर गहराई से विचार करेंगे।

NEFT vs IMPS

NEFT क्या है (NEFT Kya Hai)?

एनईएफटी का फुल फॉर्म नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (National Electronic Funds Transfer) है। इसने फंड ट्रांसफर के लिए आरबीआई के केंद्रीकृत नेटवर्क का इस्तेमाल किया। यह चौबीसों घंटे बैचों में किया जाता है। आम तौर पर एक घंटे के आधार पर। इसलिए, NEFT फंड ट्रांसफर में लगने वाले समय में अधिक समय लगता है।

एनईएफटी का फुल फॉर्म नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (National Electronic Funds Transfer)

NEFT का इस्तेमाल इंटर बैंक (eg. SBI to ICICI) फंड ट्रांसफर के लिए किया जाता है। इंट्रा-बैंक फंड के लिए कोई विकल्प नहीं है

IMPS क्या है (IMPS Kya Hai)?

IMPS का पूर्ण रूप तुरंत भुगतान सेवा (Immediate Payment Service). यह NPCI (भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम) द्वारा विनियमित तत्काल भुगतान सेवा है। इसे वास्तविक समय के आधार पर संसाधित किया जाता है। इसलिए IMPS फंड ट्रांसफर में लगने वाला समय सामान्य से कम समय लेता है।

आईएमपीएस का फुल फॉर्म हिंदी में (IMPS Full Form in Hindi): तुरंत भुगतान सेवा (Immediate Payment Service)

IMPS का उपयोग इंट्रा बैंक (eg. SBI to SBI) और इंटर बैंक (eg. SBI to ICICI) फंड ट्रांसफर दोनों के लिए किया जा सकता है।

अब आइए एक नजर डालते हैं IMPS बनाम NEFT पर-

NEFT vs IMPS अंतर

पैरामीटरNEFTIMPS
फुल फॉर्मनेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफरतुरंत भुगतान सेवा
न्यूनतम राशि11
अधिकतम राशिकोई सीमा नहीं2 lac
निपटान समयघंटे के आधार परतुरंत
उपलब्धता24x7x36524x7x365
शुल्कबैंक से बैंक में भिन्न होता हैबैंक से बैंक में भिन्न होता है

NEFT और IMPS पर अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

NEFT का फुल फॉर्म क्या है?

NEFT का फुल फॉर्म नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (National Electronic Funds Transfer) है।

IMPS का फुल फॉर्म क्या है?

IMPS का पूर्ण रूप तत्काल भुगतान सेवा (Immediate Payment Service) है।

NEFT का नियामक कौन है?

RBI NEFT का नियामक है। सभी फंड ट्रांसफर आरबीआई के माध्यम से किए जाते हैं।

न्यूनतम राशि क्या है जिसे NEFT के माध्यम से स्थानांतरित किया जा सकता है?

NEFT का उपयोग करके ट्रांसफर की जा सकने वाली न्यूनतम राशि केवल 1 रुपये है।

IMPS फंड ट्रांसफर के लिए न्यूनतम राशि कितनी होनी चाहिए?

IMPS का उपयोग करके ट्रांसफर की जा सकने वाली न्यूनतम राशि केवल 1 रुपये है।

IMPS हस्तांतरण के लिए अधिकतम राशि क्या है?

IMPS का उपयोग करके अधिकतम 2 लाख रुपये प्रति लेन-देन स्थानांतरित किया जा सकता है।

NEFT हस्तांतरण के लिए अधिकतम राशि क्या है?

NEFT हस्तांतरण के लिए कोई अधिकतम सीमा नहीं है। कुछ मामलों में तेजी से निपटान के लिए एनईएफटी के बजाय 2 लाख से अधिक फंड ट्रांसफर आरटीजीएस का उपयोग किया जाता है।

NEFT के लिए शुल्क क्या है?

NEFT ट्रांजैक्शन के लिए चार्ज हर बैंक में अलग-अलग होता है। उदाहरण के लिए एसबीआई 10,000 रुपये से कम के लेनदेन के लिए 2 रुपये + जीटीएस और 10,000 से ऊपर और 1,00,000 से कम के लेनदेन के लिए 4 रुपये+ जीएसटी चार्ज करता है।

IMPS का शुल्क क्या है?

IMPS ट्रांजैक्शन का चार्ज हर बैंक में अलग-अलग होता है। यह लेनदेन की मात्रा पर भी निर्भर करता है।

NEFT और IMPS के बीच मनी ट्रांसफर का सबसे तेज़ तरीका क्या है?

निस्संदेह IMPS फंड ट्रांसफर का सबसे तेज़ तरीका है। इसका एक फायदा यह भी है कि IMPS का उपयोग इंट्रा बैंक फंड ट्रांसफर के लिए किया जा सकता है जबकि NEFT का उपयोग इंटर बैंक फंड ट्रांसफर के लिए किया जाता है।

5/5 - (1 vote)
Spread the love

Leave a Comment