ग्रेनाइट किस प्रकार की चट्टान है? | Granite Kis Prakar Ki Chattan Hai?

ग्रेनाइट एक आग्नेय, घुसपैठ करने वाली (intrusive) चट्टान है जो प्राचीन काल से उपयोग में है। आग्नेय चट्टानों को प्राथमिक चट्टानें (primary rocks) भी कहा जाता है।

आग्नेय चट्टानों के प्रकार

आग्नेय चट्टानें दो प्रकार की होती हैं, घुसपैठ वाली चट्टानें और बहिर्मुखी चट्टानें।

ग्रेनाइट जैसी चट्टानें ज्वालामुखी गतिविधियों के कारण बनती हैं। पिघला हुआ मैग्मा पृथ्वी की सतह के नीचे जम जाता है। इन चट्टानों को घुसपैठ चट्टानें कहा जाता है जबकि पृथ्वी की सतह पर बनने वाली चट्टानों को बहिर्मुखी चट्टानें कहा जाता है।

Granite Kis Prakar Ki Chattan Hai

ग्रेनाइट चट्टान के घटक

फेल्डस्पार और क्वार्ट्ज ग्रेनाइट चट्टानों के मुख्य घटक हैं। खनिजों को जटिल रासायनिक बंधों के साथ एक साथ रखा जाता है।

प्लूटोनिक चट्टानें

घुसपैठ की (intrusive) आग्नेय चट्टानों को प्लूटोनिक चट्टानों के रूप में भी जाना जाता है। ये चट्टानें ऊपर उठने और खंडित होने के बाद ही सतह पर दिखाई देती हैं।

क्या बेसाल्ट एक आग्नेय चट्टान है?

ग्रेनाइट के विपरीत बेसाल्ट (basalt) एक बहिर्मुखी सरल चट्टान है जो ज्वालामुखी गतिविधियों के कारण भी बनी है। लेकिन बेसाल्ट चट्टान पृथ्वी की सतह पर बनती है।

दक्कन प्रायद्वीपीय क्षेत्र बेसाल्ट आग्नेय चट्टान से बना है।

भारत में कुल कितने रामसर स्थल हैं?

आग्नेय चट्टानों पर अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

ग्रेनाइट किस प्रकार की चट्टान है?

ग्रेनाइट एक घुसपैठ, आग्नेय चट्टान है। यह एक प्राथमिक चट्टान है जो पृथ्वी की सतह के नीचे पाई जाती है।

ग्रेनाइट चट्टान का निर्माण कैसे होता है?

ज्वालामुखीय गतिविधियों के कारण ग्रेनाइट चट्टान का निर्माण होता है। पिघला हुआ मैग्मा पृथ्वी की सतह के नीचे जम जाता है।

ग्रेनाइट चट्टान के मुख्य घटक क्या हैं?

ग्रेनाइट चट्टान के मुख्य घटक फेल्डस्पार और क्वार्ट्ज हैं।

निष्कर्ष: Granite Kis Prakar Ki Chattan Hai

अब आप जानते हैं कि ग्रेनाइट एक घुसपैठ, आग्नेय चट्टान है जो पृथ्वी की सतह के नीचे पाई जाती है। फिर भी अगर आपको कोई संदेह है तो कृपया हमें कमेंट सेक्शन में बताएं।

Rate this post
Spread the love

Leave a Comment